IND vs SL 2nd ODI: जब सभी छोड़ चुके थे उम्मीद, तब दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार ने करिश्माई बैटिंग से यूं पलट दी बाजी

by sadmin
Spread the love

दक्षिणापथ. कोलंबो
भारत के 193 रन पर 7 विकेट गिरने के बाद दीपक चाहर और भुवनेश्वर अब क्रीज पर थे। शायद ही किसी को उम्मीद रही होगी कि यह जोड़ी भारत को जीत दिला देगी, लेकिन इन दोनों ने करिश्माई बैटिंग से मैच का पासा ही पलट दिया। इस तरह भारतीय क्रिकेट टीम ने मंगलवार को आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए रोमांच से भरपूर दूसरे वनडे मुकाबले में श्रीलंका को 3 विकेट से हरा दिया। इस रोमांचक जीत का जश्न देखते बन रहा था। दूसरी ओर, श्रीलंकाई खिलाड़ी मायूस थे।

तीन मैचों की सीरीज में भारत ने 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली है। पहले वनडे मे भारत ने मेजबान टीम को सात विकेट से हराया था। पहले मैच के उलट मेजबान टीम सराहनीय प्रदर्शन करते हुए एक समय जीत के करीब थी लेकिन दीपक चाहर (नाबाद 69, 82 गेंद, 7 चौके, 1 छक्का) और भुवनेश्वर कुमार (नाबाद 19 रन, 28 गेंद, 2 चौके) ने बल्ले के साथ कमाल करते हुए उससे जीत छीन ली।

पहले बैटिंग करते हुए उसने भारत को 276 रनों का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य दिया और फिर 193 रनों पर उसके सात विकेट झटक लिए थे लेकिन इसके बाद अपना पहला अर्धशतक लगाने वाले चाहर ने भुवनेश्वर के साथ आठवें विकेट के लिए 84 रनों की नाबाद साझेदारी कर पासा पलट दिया। इस दौरान दीपक चाहर के पैरों में क्रैंप भी आए, लेकिन जीत का जज्बा ही था कि वह आखिरी दम तक लड़े और विनिंग चौका लगाकर ही लौटे।

दीपक चाहर और भुवी की करिश्माई बैटिंग
भारत को अंतिम 10 ओवर में 67 रन की दरकार थी। चाहर ने संदाकन पर चौका और फिर छक्का जड़ने के बाद रजिता पर लगातार दो चौके जड़कर रन गति बनाए रखी। पांचवां वनडे खेल रहे चाहर ने चमीरा की गेंद पर एक रन के साथ 64 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।

आखिरी 5 ओवर का रोमांच
भारत को अंतिम पांच ओवर में 31 रन की जरूरत थी। हसारंगा के ओवर में सिर्फ दो रन बने लेकिन भुवनेश्वर और चाहर ने चमीरा पर चौके जड़ते हुए 13 रन बटोरे। हसारंगा के 48वें ओवर में सिर्फ एक रन बना। भारत को अंतिम दो ओवर में 15 रन की जरूरत थी। चाहर ने चमीरा पर दो चौके के साथ भारत का पलड़ा भारी किया। अंतिम ओवर में भारत को तीन रन की दरकार थी और चाहर ने रजिता की पहली गेंद पर चौका जड़कर टीम को जीत दिला दी।

सूर्यकुमार यादव ने भी की खूब मेहनत
भारत ने 49.1 ओवरों में सात विकेट पर लक्ष्य हासिल कर लिया। भारत की ओर से चाहर के अलावा सूर्यकुमार यादव ने 53 रन बनाए। यह वनडे में उनका पहला अर्धशतक है। इसके अलावा मनीष पांडे ने 37, क्रुणाल पंड्या ने 35 रन जोड़े। कप्तान शिखर धवन के बल्ले से 29 रन निकले। श्रीलंका की ओर से वानिंदू हसारांगा ने तीन विकेट लिए। इससे पहले, चरीथ असालंका (65) और अविष्का फर्नांडो (50) की शानदार पारियों की मदद से श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में नौ विकेट पर 275 रन बनाए।

भारत की तरफ से भुवनेश्वर कुमार और युजवेंद्र चहल ने तीन-तीन विकेट और दीपक चाहर ने दो विकेट लिए। श्रीलंका की पारी में विकेटकीपर बल्लेबाज मिनोद भानुका ने 36, धनंजय डी सिल्वा ने 32, कप्तान दासुन शनाका ने 16, वनिंदु हसारंगा ने आठ और दुश्मंथा चमीरा ने दो रन बनाए, जबकि चमीका करूणारत्ने 33 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 44 और कासुन रजीथा एक गेंद पर एक रन बनाकर नाबाद रहे।

Related Articles