संयंत्र में राजभाषा पखवाड़ा का शुभारंभ

by sadmin
Spread the love

भिलाई। सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र, संपर्क व प्रशासन के तहत राजभाषा विभाग द्वारा राजभाषा पखवाड़ा का शुभारंभ कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) सभागार में ऑनलाइन माध्यम से हुआ। इस उदघाटन समारोह के मुख्य अतिथि सुरेश कुमार दुबे, कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) थे। कार्यक्रम में महाप्रबंधक (संपर्क व प्रशासन एवं जनसंपर्क), जेकब कुरियन एवं उप महाप्रबंधक (संपर्क व प्रशासन एवं प्रभारी राजभाषा), सौमिक डे विशेष रूप से उपस्थित थे।

कार्यक्रम के आरंभ में अतिथिगण ने माँ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया।

पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी सभी प्रतियोगिताएँ ऑनलाइन होने जा रही हैं। इस वर्ष संयंत्र एवं खदान में सभी प्रतियोगिताएँ एकसमान होंगी। इसके तहत ऑनलाइन क्विज, ‘तात्कालिक निबंध लेखन’, ‘काव्यलेखन’ एवं ‘चित्र देखें-कहानी लिखें’ प्रतियोगिता आयोजित की जाएंगी। इस हेतु परिपत्र का समग्र अवलोकन किया जा सकता है। इस वर्ष राजभाषा पखवाड़ा का समापन समारोह एवं भिलाई इस्पात संयंत्र स्तरीय वार्षिक राजभाषा पुरस्कार वितरण समारोह 14 सितंबर को आयोजित होने जा रहे हिंदी दिवस समारोह के साथ ही रखा गया है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सुरेश कुमार दुबे, कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) ने कहा कि दैनिक जीवन के कार्यों में हिंदी का अधिकाधिक प्रयोग करें। हिंदी का विस्तार सात समंदर पार तक है, विश्व के अनेक ऐसे देश हैं जहाँ युगांडा, नेपाल, सूरीनाम, माॅरीशस, फिजी, आदि देशों में हिंदी मान्य भाषा है जहाँ हिंदी बोली जाती है। उन देशों में आज भी सैकड़ों वर्षों के बाद हिंदी को जीवित रखा गया है। हमें भी हिंदी को हृदय से अपनाना है, हिंदी में कार्य करना बहुत ही सरल है, इससे समय की बचत होती है। हमारा हिंदी में कार्य करने का लक्ष्य 100 प्रतिषत है, जिसे हमें हासिल करना ही है।

उप महाप्रबंधक (संपर्क व प्रशासन एवं प्रभारी राजभाषा), सौमिक डे ने कहा कि प्रतिवर्ष सितंबर माह में संयंत्र प्रबंधन द्वारा राजभाषा के प्रचार-प्रसार के लिए विभिन्न कार्यक्रम एवं प्रतियोगिताएँ आयोजित की गई हैं। इन प्रतियोगिताओं में भाग लेकर हिंदी के प्रचार-प्रसार में योगदान करें।

उद्घाटन समारोह में राष्ट्रप्रेम व राजभाषा पर केन्द्रित कविगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें संयंत्र कर्मी महिला कवयित्रियों सुश्री शिवानी जत्रेले, उप महाप्रबंधक (संगणक एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग), सुश्री स्मिता जैन, सहायक महाप्रबंधक, (वित्त एवं लेखा) एवं सुश्री मंजू मौर्य, प्रचालक सह टेक्नीशियन (अनुसंधान व नियंत्रण प्रयोगशाला) ने अपनी स्वरचित कविताओं का पाठ किया, प्रस्तुत काव्य रचनाओं की सभागार एवं ऑनलाइन माध्यम से जुड़े विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों ने भरपूर सराहना की। कवयित्रियों को कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सुरेश कुमार दुबे, कार्यपालक निदेशक (कार्मिक एवं प्रशासन) द्वारा सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम के प्रारम्भ में मुख्य अतिथि का राजभाषा विभाग के वरिष्ठतम सदस्य राम विशाल, अनुवादक सह समन्वयक द्वारा किताब भेंट कर स्वागत किया गया। कार्यक्रम का संचालन जितेन्द्र दास मानिकपुरी, सहायक प्रबंधक (संपर्क व प्रशासन-राजभाषा) द्वारा किया गया एवं धन्यवाद ज्ञापन मनोज कुमार सोनी, कनिष्ठ अनुवादक सह समन्वयक ने प्रस्तुत किया। इस अवसर पर राजभाषा विभाग के अधिकारी व कार्मिकगण उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Comment