इंडिगो का सर्वर हैक

by sadmin
Spread the love

दिसंबर में सर्वर हैक होने से यात्रियों के डेटा भी हुए चोरी, एयरलाइन कर रही है जांच
कंपनी का दावा, सिस्टम को कम समय में ही ठीक कर लिया गया
कंपनी ने शेयर बाजारों को दी सूचना में यह जानकारी दी है
देश की सबसे बड़ी घरेलू एयरलाइन कंपनी इंडिगो ने कहा है कि दिसंबर की शुरुआत में उसके सर्वर को हैक कर लिया गया था। इस वजह से यात्रियों के डेटा भी चोरी होने की आशंका है। कंपनी ने शेयर बाजारों को इस तरह की जानकारी दी है।

दिसंबर की शुरुआत में हुआ सर्वर हैक

बता दें कि इंटरग्लोब एविएशन लिमिटेड इंडिगो को चलाती है। इसने गुरुवार को कहा कि उसके कुछ सर्वरों को दिसंबर की शुरुआत में हैक कर लिया गया था। एयरलाइन ने गुरुवार शाम को जारी एक बयान में कहा कि हालांकि हम अपने सिस्टम को कम से कम समय में बहाल करने में सक्षम हो गए थे। इसलिए इसका ज्यादा बुरा असर नहीं हुआ होगा।

डेटा सर्वर के कुछ सेगमेंट हैक हुए थे

इसमें कहा गया कि डेटा सर्वर के कुछ सेगमेंट थे जिनमें सेंध लगाई गई। इसलिए इस बात की संभावना है कि कुछ आंतरिक दस्तावेज सार्वजनिक वेबसाइटों और प्लेटफार्मों पर हैकर्स द्वारा अपलोड किए गए हों। यह घटना ऐसे समय में हुई है जब यह एयरलाइंस कोविड-19 महामारी से बुरी तरह प्रभावित हुई है। इसके परिणामस्वरूप यात्रियों की संख्या में गिरावट आई है और बिजनेस का नुकसान हुआ है।

गंभीरता को समझ रही है एयरलाइंस

एयरलाइन ने बयान में कहा कि हम इस मुद्दे की गंभीरता को समझते हैं। इसलिए सभी विशेषज्ञों और सरकारी एजेंसियों के साथ संपर्क बनाए हुए हैं ताकि घटना की तह में जाकर इसके सभी पहलुओं को जांचा जा सके। इंडिगो ने हाल में अपने 10 पर्सेंट कर्मचारियों की संख्या घटा दी है। कोरोना में बिजनेस धीमा होने से यह फैसला किया गया था। कंपनी ने अगस्त में कहा था कि उसे अभी किसी पैसे की जरूरत नहीं है।

इंडिगो अभी भी लागत घटाने की योजना पर काम कर रही है। बता दें कि कोरोना की वजह से बंद होने के कारण देश में 25 मई के बाद घरेलू एयरलाइंस शुरू हो पाई थीं।

Related Articles

Leave a Comment