इलाज कराने अस्पताल जाने की नहीं है जरूरत

by sadmin
Spread the love

बिलासपुर। जिले के अंतर्गत आने वाले नगरीय निकायों के निवासियों के लिए यह अच्छी खबर हो सकती है। अब इलाज कराने के लिए अस्पताल जाने की जरूरत नहीं है। मोबाइल मेडिकल यूनिट में सवार चिकित्सक व मेडिकल स्टाफ घर-घर पहुंचेंगे व मरीजों का इलाज करेंगे। इस दौरान रक्त व पेशाब की जांच भी करेंगे। लैब से जांच रिपोर्ट मिलने के बाद चिकित्सक संंबंधित मरीज को बीमारी के हिसाब से मुफ्त में दवा भी देंगे।मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत नगर निगम के वार्डों में मोबाइल मेडिकल यूनिट के जरिए मरीजों का इलाज किया जा रहा है। स्लम एरिया में रहने वाले गरीबों के लिए यह योजना वरदान साबित हो रही है। गरीबों को उनकी झोपड़ियों के पास ही इलाज मिल जा रहा है। बुजुर्गों के लिए यह बड़ी सुविधा है। मोबाइल यूनिट के जरिए जरूरतमंद इलाज करा रहे हैं। इसे देखते हुए अब इस योजना को विस्तारित करने का निर्णय लिया गया है। इसके तहत जिले के अंतर्गत आने वाली नगरीय निकायों में इसे शुरू किया जाएगा। इसके लिए कार्ययोजना बनाई गई है। विस्तारित योजना के तहत जिले के दो नगर पालिकाओं एवं चार नगर पंचायतों के निवासियों को इसकी सुविधा जल्द मिलने जा रही है | जिले के नगर पालिका परिषद रतनपुर एवं नगर पंचायत मल्हार के लिए एक मेडिकल मोबाइल यूनिट का संचालन किया जाएगा। इसी तरह नगर पालिका तखतपुर और नगर पंचायत कोटा के लिए एक मेडिकल मोबाइल यूनिट तथा बिल्हा एवं बोदरी नगर पंचायतों के लिए एक मेडिकल मोबाइल यूनिट संचालित की जाएगी। जिले की नगर पालिकाओं एवं नगर पंचायतों के लिए तीन मोबाइल मेडिकल यूनिट चलाई जाएगी।

Related Articles

Leave a Comment