बारिश समाप्त होते ही बीटी का कार्य कराएं, महत्वपूर्ण सड़कों के निर्माण कार्य की मानिटरिंग होती रहे

by sadmin
Spread the love

कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने बैठक में दिये निर्देश, कहा कि बिजली-पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं के संबंध में हमेशा अलर्ट रहकर काम करने की जरूरत
दुर्ग.
बारिश समाप्त होते ही जिन सड़कों पर बीटी का काम प्रस्तावित हैं वहां बीटी का काम कराएं। जिले की जीवनदायिनी सड़कों में जहां भी दिक्कत आई है अब इन्हें ठीक करने की मुकम्मल व्यवस्था कराएं। जामुल-अहिवारा रोड जैसी प्राथमिकता वाली सड़कों के लिए टाइमलाइन पर कार्य करते हुए काम की लगातार मानिटरिंग करना सुनिश्चित करें। यह निर्देश कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आज समीक्षा बैठक में दिये। कलेक्टर ने कहा कि बिजली-पानी जैसी बुनियादी सुविधाएं नागरिकों तक अबाधित रूप से पहुँचाना प्राथमिकता है। निगम क्षेत्रों में जहां प्रेशर की समस्या है अथवा टेल एंड होने की वजह से पानी नहीं जा रहा, वहां पर निर्देशानुसार शीघ्रताशीघ्र मुकम्मल व्यवस्था कराएं। उन्होंने कहा कि बिजली की स्थिति की लगातार मानिटरिंग करते रहें। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिये जाने की जरूरत है। कुछ शिकायतें आई हैं जिसमें हास्पिटल स्टाफ द्वारा नागरिकों को असहयोग करने की बात आई है। इस पर कड़ी कार्रवाई किये जाने की जरूरत है। इन मामलों की पारदर्शिता से जांचकर पुख्ता कार्रवाई सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने कहा कि पार्किंग का मुद्दा भी नगरीय क्षेत्रों में आ रहा है। इन पर नजर रखकर जिन नगरीय निकायों में ऐसी समस्या आ रही है उसे ठीक करने की पुख्ता व्यवस्था कराएं। कलेक्टर ने कहा कि शासन ने शहरी स्वास्थ्य के लिए मोबाइल मेडिकल यूनिट की व्यवस्था की है। यह कारगर रूप से कार्य कर रही है लेकिन इसमें ओपीडी बढ़ाने की जरूरत है। कोशिश यह हो कि अधिकाधिक लोग प्रारंभिक रूप से इन्हीं मोबाइल मेडिकल यूनिटों में इलाज करा लें। इससे बीमारियों के आरंभिक चिन्हांकन में भी सहयोग मिलेगा और बीमारियों को आरंभिक रूप में ही नियंत्रित किया जा सकेगा। कलेक्टर ने राजस्व संबंधी मामलों की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि नामांतरण आदि के जो आवेदन राजस्व अधिकारियों के पास आये हैं उन्हें न्यूनतम समय सीमा में हल करें। राजस्व अधिकारी जितनी तेजी से काम करेंगे, हितग्राहियों को उतनी ही राहत मिलेगी। बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती नूपुर राशि पन्ना, जिला पंचायत सीईओ श्री सच्चिदानंद आलोक सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।
एनएच के अधिकारियों से पूछा, सड़क पर कार्य की प्रगति कैसी है- कलेक्टर ने एनएच के अधिकारियों से कहा कि एनएच को छोटी गाड़ियों के लिए 15 अक्टूबर तक आरंभ करना सबसे पहली प्राथमिकता है। इस टाइमलिमिट को ध्यान में रखकर युद्धस्तर पर कार्य करें। उन्होंने पूछा कि कार्यस्थलों में लाइट वगैरह की कोई दिक्कत तो नहीं है। अधिकारियों ने बताया कि इसे दुरूस्त कर लिया गया है। साथ ही उन्होंने डबरापारा की स्थिति के बारे में भी जानकारी ली। निगम आयुक्त भिलाई ने बताया कि इसकी लगातार मानिटरिंग की जा रही है।

Related Articles

Leave a Comment