मां का चल रहा था अफेयर, बेटे ने किया सवाल तो गर्म लोहे से जलाया

by sadmin
Spread the love

चेन्नई: कहा जाता है मां कभी अपने बच्चे के साथ बुरा नहीं कर सकती, लेकिन इस कथनी को तमिलनाडु की एक मां ने गलत साबित कर दिया है. दरअसल, कुड्डालोर जिले के एक गांव में एक मां पर उसके प्रेमी के साथ मिलकर 12 साल के बेटे को प्रताड़ित करने का आरोप लगा है. आरोपी मां ने अपने बेटे पर गरम लोहे के पाइप से हमला किया. पड़ोस के एक शख्स ने इस मामले की जानकारी चाइल्डलाइन को दी जिसके बाद मामले का खुलासा हुआ.जानकारी के मुताबिक 35 साल की मां और उसका 40 साल का प्रेमी बच्चे के साथ अक्सर मारपीट किया करते थे. एक दिन बच्चे ने जब अपनी मां से उसके प्रेमी के साथ संबंध पर सवाल किया, तो उन दोनों ने गरम लोहे के पाइप से बच्चे पर अटैक कर दिया. सूचना के बाद मौके पर चाइल्डलाइन और पुलिस की टीम पहुंच गई और दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

पति की हो चुकी है मौत
गिरफ्तार किए गए लोगों की पहचान एसएन चावड़ी की कपड़ा दुकान की कर्मचारी शांति देवी और उनके प्रेमी एम धुगैयाल अहमद के रूप में हुई है. दो साल पहले शांति के पति हरिकृष्णन की कैंसर से मौत हो गई थी, जिसके बाद वो अहमद के संपर्क में आई, जिसने उसे विश्वास दिलाया कि उसके घर में बुरी आत्माएं हैं. अहमद ने उससे कहा कि वह उसकी आर्थिक समस्याओं को समाप्त करने के लिए कुछ अनुष्ठान करेगा. उन दोनों का परिचय बहुत जल्द एक रिश्ते में बदल गया.

बेटे ने किया था मां के रिश्ते पर सवाल
आरोपी महिला के नाबालिग बेटे ने अपनी मां के रवैये में बदलाव देखा, तो बच्चे ने उससे पूछा कि अहमद अक्सर उसके पास क्यों आता है? इससे नाराज होकर महिला और अहमद ने बच्चे को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. जब बच्चे ने उनके रिश्ते के बारे में पूछा, तो उन्होंने उसे घर से भागने के लिए मजबूर कर दिया. इतनी कम उम्र के बच्चे ने जिस भयावहता को झेला है उसकी कल्पना करना भी कठिन है.

पड़ोसियों को दी थी जान से मारने की धमकी
आरोपी महिला और उसके आशिक ने बच्चे को एक रात घर से बाहर निकाल दिया, तो उसने पूरी रात बाहर खड़े ऑटो-रिक्शा में बिताई. इस मामले में पड़ोसियों ने भी अपनी आवाज उठाने की हिम्मत नहीं की, क्योंकि अहमद ने उन्हें और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दी थी एक स्थानीय निवासी ने हिम्मत जुटाई और इसकी सूचना ग्राम प्रशासनिक अधिकारी (वीएओ) और चाइल्डलाइन को दी. इसके बाद नाबालिग को बचा लिया गया और बाल गृह भेज दिया गया. उसकी मां और उसके प्रेमी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है. दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

Related Articles

Leave a Comment