अहिवारा के शहरी गौठान का वर्मी कंपोस्ट उपयोग होगा नंदिनी के निर्माणाधीन मानव निर्मित जंगल में

by sadmin
Spread the love

-अहिवारा पहुँचे कलेक्टर, नागरिक सेवाओं की आपूर्ति की स्थिति और शासन की फ्लैगशिप योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति देखी
दक्षिणापथ, दुर्ग।
कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आज अहिवारा में तहसील आफिस, स्वास्थ्य केंद्र, शहरी गौठान एवं अन्य निर्माण कार्यों का अवलोकन किया। कलेक्टर ने अहिवारा के गौठान में वर्मी कंपोस्ट और सुपर कंपोस्ट के उत्पादन की स्थिति देखी। सीएमओ ने यहाँ पर गौठान में उत्पादित वर्मी कंपोस्ट दिखाया। कलेक्टर ने इसकी गुणवत्ता से संतोष जताया। उन्होंने कहा कि बिल्कुल बगल से ही नंदिनी में बड़े पैमाने पर पौधरोपण हो रहा है। इसके लिए कंपोस्ट खाद की जरूरत होगी। वन विभाग इसे क्रय कर लेगा। इस मौके पर जिला पंचायत सीईओ सच्चिदानंद आलोक भी उपस्थित थे। कलेक्टर ने कहा कि शहरी गौठान का बेहतर संचालन सबसे अहम कार्य है। गोधन न्याय योजना के उचित क्रियान्वयन के लिए लगातार मानिटरिंग करते रहें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक शहरी गौठान में चारागाह के निर्देश दिये गए हैं। चारे की आवश्यकता देखते हुए जमीन का चिन्हांकन करना है तथा यहाँ पर नैपियर घास लगानी है।

तहसील आफिस भी देखा- कलेक्टर ने तहसील आफिस भी देखा। उन्होंने यहाँ राजस्व प्रकरणों के निपटारे की स्थिति के संबंध में जानकारी ली। दस्तावेजों को देखा। उन्होंने कहा कि नामांतरण, सीमांकन, फौती चढ़ाने आदि के आवेदनों पर समय सीमा पर कार्रवाई सुनिश्चित करें। यहाँ पर तहसीलदार श्री चौबे ने बताया कि लाकडाउन के पश्चात हर दिन कोर्ट लगाई जा रही है और तेजी से आवेदनों पर कार्रवाई की जा रही है।
स्वास्थ्य केंद्र का किया निरीक्षण-कलेक्टर ने अहिवारा स्थित स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण भी किया। यहाँ उन्होंने ओपीडी की स्थिति की जानकारी ली। स्टाफ से यहां किये जा रहे इलाज के संबंध में विस्तार से जानकारी ली तथा कोरोना की तीसरी लहर की आशंका में अस्पताल प्रबंधन द्वारा अब तक किये उपायों की समीक्षा भी की।

Related Articles