निगरानीशुदा बदमाश के हत्याकांड का खुलासा, पुरानी रंजिश के चलते तीन युवकों ने वारदात को दिया था अंजाम

by sadmin
Spread the love

दक्षिणापथ, दुर्ग। निगरानीशुदा बदमाश भारद्वाज उर्फ चप्पू ठाकुर के हत्याकांड मामले को पुलिस ने घटना के चंद घंटे बाद सुलझाने में सफलता हासिल की है। इस मामले में पुलिस ने तीन युवको को गिरफ्तार किया है। आरोपी तोरन सोनी उर्फ छोटू 23 वर्ष पिता नरेश सोनी पानी टंकी के पास बघेरा, पवन पटेल 28 वर्ष पिता स्व. नंदकुमार पटेल पटेलपारा बघेरा और मुकेश साहू 27 वर्ष पिता गोपीराम साहू पटेलपारा बघेरा का निवासी है। आरोपियों ने पुरानी रंजिश के कारण हत्या करना स्वीकारा है। आरोपियों को गिरफ्तार कर मोहन नगर पुलिस द्वारा न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। घटना का खुलासा करते हुए सीएसपी दुर्ग विवेक शुक्ला ने बताया कि वार्ड 56 महावीर चौक बघेरा निवासी भारद्वाज उर्फ चप्पू ठाकुर 23 वर्ष की हत्या कर लाश को उरला शराब दुकान के पास फेंक कर आरोपी फरार हो गए थे। 28 जून की शाम 6 बजे कहीं जाने के लिए भारद्वाज घर से निकला था। देर रात वापस नहीं लौटा। 29 जून की सुबह उरला रोड़ दुर्ग में उसकी लाश मिली। जिसकी शिनाख्त उसके चचेरा भाई ने किया। भारद्वाज के पेट में 7-8 जगह पर किसी नुकीले धारदार हथियार से गंभीर चोट के निशान थे। बांये पेट के अंतड़ी बाहर तथा खून निकला हुआ था। हाथ की अंगुली एवं गले में चोट खरोंच के निशान भी पाए गए थे। इस हत्याकांड में आरोपियों को पकडऩे के लिए मोहन नगर पुलिस ने टीम बनाई। टीम द्वारा आरोपियों की पता तलाश की जा रही थी। इस बीच पानी टंकी के पास बघेरा दुर्ग निवासी तोरन सोनी उर्फ छोटू 23 वर्ष, पटेल पारा बघेरा दुर्ग पवन पटेल 28 वर्ष, मुकेश साहू 27 वर्ष को संदेह के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर तीनों युवको ने घटना को अंजाम देना स्वीकार किया। पुरानी रंजिश के कारण ही हत्या करना बताया गया। यह कार्यवाही एसपी प्रशांत ठाकुर के निर्देश व एएसपी संजय ध्रुव व सीएसपी विवेक शुक्ला के मार्गदर्शन में टीम बनाकर की गई। टीम में मोहन नगर थाना प्रभारी बृजेश कुशवाहा, सहायक उप निरीक्षक किरेन्द्र सिंह, प्रधान आरक्षक रमेश शर्मा, राजेश देवांगन, अशोक साहू, आरक्षक अलाउद्दीन, नरेन्द्र सहारे ,अजय विश्वकर्मा, मनीष अग्निहोत्री, हीरामन साहू, ओम प्रकाश देशमुख, सकील खान, प्रशांत पाटनकर, राजेश साहू, रोमनाथ विश्वकर्मा, धीरेन्द्र यादव, चित्रसेन साहू, फारुख खान, प्रदीप ठाकुर की सराहनीय भूमिका रही।

Related Articles