शिक्षकों की मांगों को लेकर मुख्यमंत्री निवास पहुँचा शिक्षक महाफैडरशन

by sadmin
Spread the love

दक्षिणापथ,दुर्ग। ‘छत्तीसगढ़ शिक्षक महाफैडरशन के प्रांताध्यक्ष राजेश पाल के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल मुख्यमंत्री निवास पहुंच कर मुख्यमंत्री के सुपुत्र चैतन्य बघेल व ओएसडी मनीष बंछोर को अपनी मांगों के सम्बन्ध मे ज्ञापन सौंपा और संविलियन प्राप्त शिक्षकों के विभिन्न समस्याओं पर शासन प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया। संविलियन प्राप्त शिक्षकों के पदनाम से एलबी शब्द हटाने के मुख्यमंत्री सचिवालय से जारी पत्र पर विभाग द्वारा शीघ्र सकारात्मक कदम उठाए जाने की पैरवी की । महंगाई भत्ते का लंबित 16 प्रतिशत एक साथ देने , एरियस भुगतान करने महाफैडरशन की मांग पर शासन द्वारा लिए गए सकारात्मक आदेश, जिसमें संविलियन प्राप्त शिक्षकों को दो वर्ष पश्चात के वेतन वेटेज देने की बात कही गई उनके पुरे प्रदेश में एक साथ समय सारणी बनाकर शिक्षकों को अगले वेतन के साथ देने के अलावा हाउस रेंट अलाउंस को सातवें पे के अनुसार दिए जाने की मांग पर चर्चा की गई। सहायक शिक्षक को समानुपातिक वेतन देकर उनके वेतन विसंगति को दूर करने और स्थानांतरण पर प्रतिबंध हटाने की मांग की । वहीं संवर्ग के शिक्षकों को प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवा को जोडने एवं तदनुसार क्रमोन्नति वेतनमान व पदोन्नति देने की मांग पर जोर दिया गया। संगठन ने पंचायत साथियों के परिवारजनो को अनुकंपा नियुक्ति नियमों में शिथिलता का आग्रह किया।
महाफैडरएशन के प्रदेश अध्यक्ष राजेश पाल के नेतृत्व में महामंत्री प्रणव मांडरिक, प्रदेश मीडिया प्रभारी रितेश टिकरिहा प्रतिनिधि मंडल में शामिल थे ।

Related Articles