खटाल संचालकों को नोटिस : गंदगी फैलाने और मवेशियों को सड़क पर छोडऩे वाले डेयरी संचालक से वसूला 6000

by sadmin
Spread the love

रोका-छेका के तहत पकड़े मवेशी
दक्षिणापथ, रिसाली।
शहर के भीतर डेयरी संचालन करने वालों पर निगम के अधिकारी नजर रखना शुरू कर दिया है। गंदगी फैलाने और मवेशियों को खुला छोडऩे पर प्रकरण तैयार किया जा रहा है। नोटिस के बाद भी व्यवस्था में सुधार नहीं लाने पर दो डेयरी संचालक से 6000 जुर्माना भी वसूल किया गया।
लगातार हो रही बारिश में किसी तरह की महामारी न फैले इस उद्देश्य के साथ निगम के अधिकारी ऐसे स्थान पर फोकस कर रहे है जहां से संक्रमण फैलने का खतरा है। राजस्व विभाग प्रभारी हरचरण सिंह अरोरा ने बताया कि स्वच्छता नियमों की अनदेखी करने पर प्रगतिनगर के डेयरी संचालक राजेश यादव व आजाद पारा टंकी मरोदा के माखन यादव पर 3-3 हजार जुर्माना वसूल किया है। दोनो डेयरी संचालक खटाल की गंदगी खुले स्थान में फेक रहे थे। वही दूध निकालने के बाद दुधारू मवेशियों को खुले में छोड़ दिया था।

दर्जन भर को नोटिस
नगर पालिक निगम रिसाली के आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे ने स्वच्छता को पहले पायदान पर रखा है। आयुक्त के निर्देश पर निगम की स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पूरे क्षेत्र के डेयरी का निरीक्षण किया और दर्जन भर डेयरी संचालक को स्वच्छता नियमों का पालन नहीं करने पर नोटिस थमाया है।
आधा दर्जन मवेशी को पहुंचाया गोठान
राजस्व विभाग प्रभारी के नेतृत्व में निगम के कर्मचारी रोका-छेका अभियान चला रहे है। वे ऐसे आवारा मवेशियों को पकड़ रहे है, जो सड़क पर बैठी रहती है। अभियान के तहत रिसाली निगम के कर्मचारियों ने आधा दर्जन मवेशियों को पकड़कर वे गोठान पहुंचाया।
रात में पेट्रोलिंग
आयुक्त ने रोका-छेका अभियान के अलावा सड़क पर बैठी मवेशियों की वजह से होने वाले दुर्घटनाओं को रोकने विशेष व्यवस्था की है। उन्होंने डीपीएस चैक से मैत्री विद्या निकेतन, कृष्णा टॉकिज रोड और मरोदा-उतई रोड पर पेट्रोलिंग करने निर्देश दिए है। आयुक्त के निर्देश पर निगम कर्मचारी मवेशी को सड़क से हटाने का भी कार्य कर रहे है। यह व्यवस्था बाजार वाले क्षेत्रों में भी की जाएगी।

Related Articles