पत्थलगांव शहर के ज्यादातर एटीएम में लगी एसी खराब लोग हो रहे पसीने से तर बतर: सुविधा के नाम पर छल रहे बैंक विभाग, एटीएम में पैसा की जगह पसीना निकालने को मजबूर शहर के ज्यादातर एटीएम में लगे

by sadmin
Spread the love

दक्षिणापथ, पत्थलगांव। एसी पूरी तरह खराब हालत में है। जहां लोगो को भारी उमस भरी गर्मी में पसीने से तर बतर होना पड़ रहा है। रायगढ़ रोड़ में स्टेट बैंक के पास ही लगे एटीएम जहां एटीएम मसीने तो तीन रखी हुई है। पर एसी एक भी चल नही रही वही दिखाने के लिए ऊपर में दो एसी लगी हुई है। जो किसी काम की नही है। वही जशपुर रोड में पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम का भी यही हाल है। भले ही इस एटीएम का तो और ज्यादा बुरा हाल है। पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम का तो गेट तक लॉक नही होता अब आप समझिए कि एटीएम जैसे जगहों की हालत जिसे सुरक्षा के अंतर्गत ज्यादा ध्यान रखा जाना चाहिए पर इन एटीएम के मरम्मत के नाम पर यहां कुछ नही होता अगर कुछ होता तो इन एटीएम की हालत इतनी खराब नही होती।

जबकि एटीएम मसीने जहाँ लगी होती है वहाँ सुरक्षा से लेकर पैसे निकालने आने वाले ग्राहको के लिए गर्मी से राहत देने के लिए एसी लगाई जाती है जो बस शुरू के दो चार महीने बिल पास होने तक ही काम करती है। उसके बाद तो बस खाना पूर्ति की तरह एटीएम में लगे खराब एसी को देख कर ही ग्राहको को ठंड का अनुभव करना होता है। वही धारकों से एटीएम सर्विस के नाम के पैसों को काटने में सबंन्धित बैंक जरा भी देर नही करती जैसे ही एक वर्ष पूरा होता है। ग्राहकों के खाते से एटीएम के सर्विस चार्ज कांट लिए जाते है। उसी तरह ग्राहकों को जब सुविधाये देने की बात आती है। तो सबंन्धित बैंक ज्यादा कुछ करती नजर नही आता जबकि ग्राहकों को सुविधाएं देने के लिए बैंकों को स्पस्ट निर्देश दिए जाते है। पर होता ठीक इसके उलट है।

हमारे संवाददाता ने जब एटीएम में लगी ज्यादातर एसी के खराब होने से वहां आने वाले ग्राहकों को पसीने से तर बतर होने की जानकारी मिली एटीएम में जाकर खराब एसी की बात जाननी चाही तो ये बिल्कुल सही पाई गई शहर के ज्यादातर एटीएम में लगी एसी पूरी तरह खराब पड़ी है। जबकि एमटीएम में एसी लगी जरूर है। पर वो चलने की हालत में नहI पूरी तरह खराब हालत में सिर्फ दिखाने की तरह एसी लगी हुई है। अब देखना होगा कि इन एटीएम की देखरेख करने वाला विभाग कब तक एटीएम में लगी एसी को सुधरवा कर ग्राहकों को बेहतर सुविधाएं देने पहल करती दिखती है या यु ही पैसे की जगह पसीना निकालने को मजबूर करता रहेगा ॽॽ

Related Articles