दुर्ग जिले में लगातार खराब होती कानून व्यवस्था को लेकर भाजयुमो ने किया गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का पुतला दहन

by sadmin
Spread the love

प्रदेश के सबसे वीवीआईपी जिले दुर्ग में कानून व्यवस्था सबसे खराब तो पूरे प्रदेश में क्या होगा वक्त है पछतावे का- भाजयुमो जिलाध्यक्ष नितेश साहू
दक्षिणापथ, दुर्ग।
प्रदेश के मुख्य जिलों में से एक और खासकर जिस जिले में प्रदेश के मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, कृषि मंत्री सिंचाई मंत्री एवं कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त आयोग के अध्यक्ष निवासरत ऐसे जिले में पिछले कुछ दिनों के भीतर दो युवकों के नृशंस हत्या कर दी गई इसे सीधे तौर पर झलकता है कि पुलिस का खौफ अपराधिक तत्वों के ऊपर बिल्कुल भी नहीं रहा ऐसे मामलों को लेकर दुर्ग जिला भाजयुमो के द्वारा प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का पुतला दहन भाजयुमो जिला अध्यक्ष नितेश साहू के नेतृत्व में इंदिरा मार्केट चौक पर किया गया इस दौरान उनके साथ प्रमुख रूप से जिला भाजपा महामंत्री ललित चंद्राकर, जिला उपाध्यक्ष कांतिलाल जैन, जिला भाजपा मंत्री दिनेश देवांगन व मनोज मिश्रा, मीडिया प्रभारी केएस चौहान, नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा, भाजपा मंडल अध्यक्ष लुकेश बघेल व दीपक चोपड़ा, मंडल महामंत्री तेखन सिन्हा, बंटी चौहान, संतोष कोसरे भाजयुमों से नितेश बाफना, गौरव शर्मा, वरुण जोशी, सोनू राजपूत, रिंकु पाण्डेय, बंटी देशमुख, दीपक सिन्हा, नीलेश अग्रवाल, पार्षद नरेश तेजवानी, ओमप्रकाश सेन, द्वारिका साहू, योगेश साहू, चंद्रकांत साहू, पीयूष मालवीय, राहुल पाटिल, अनुपम मिश्रा, विपिन चावड़ा, लाकेश्वर साहू, राहुल भट्ट, नारायण दत्त तिवारी उपस्थित थे।
इस अवसर पर मीडिया से मुखातिब होते हुए भाजयुमो के जिलाध्यक्ष नितेश साहू ने कहा कि जबकि सबको मालूम है की छत्तीसगढ़ का वीआईपी जिलों में शुमार दुर्ग जिला जहां पर मुख्यमंत्री के साथ 04 मंत्री और विधायक निवासरत है उसके बाद भी दुर्ग शहर में 5, 6 दिनों के भीतर दो युवकों की हत्या कर दी गई और जिस तरह से उनकी हत्या की गई है उसे तो लगता है कि पुलिस का रत्ती भर भी खौफ नहीं है जबकि हमारे जिले में निवासरत गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू कानून व्यवस्था का संपूर्ण छत्तीसगढ़ में बेहतर बनाने की जवाबदारी है जबकि उनके खुद के गृह जिले में हालत ज्यादा खराब है इन सभी विषयों को लेते हुए भाजयुमो के द्वारा कानून व्यवस्था को बनाने को लेकर एवं अपराधिक तत्वों पर अंकुश लगाने की मांग करते हुए आज उनका पुतला दहन किया गया।
पुतला दहन के दौरान नितेश बाफना, गौरव शर्मा, वरुण जोशी, पीयूष मालवीय, राहुल पाटिल, नीलेश अग्रवाल, बंटी देशमुख, संतोष कोसरे, अनुपम मिश्रा, अभिषेक टंडन, मीनू निषाद, कलेन्द्री साहू, प्रवीण यदु, प्रखर बेलचंदन, संजय शुक्ला, पूनमचंद सपहा, नीलेश सिन्हा, कृष्णा सिंह, मंगल राजपूत, गुलशन दिल्लीवार, अनिल साहू, दुर्गेश शर्मा, खिलावन साहू, ज्वाला तांडी, शुभम साहू, प्रांजल भारद्वाज, राजदेव चौहान, करण सिंह, दुर्गेश शर्मा, शुभम मानिकपुरी, प्रवेश शर्मा, अजय श्रीवास, दीपक गुप्ता, पूरन सेन, राहुल विश्वकर्मा, तुषार यादव, सुनील ढीमर, महेंद्र वर्मा, नागेश निषाद, राम निषाद, ईशु साहू, दुष्यंत साहू, अभिषेक, योगेश ठाकुर, आशीष पाण्डेय, शंकर साहू, सुनील यादव, सोनू कामड़े, अशफाक़ व बड़ी संख्या में युवा शामिल थे यह जानकारी मीडिया प्रभारी केएस चौहान ने मीडिया को दी।

Related Articles