डेंगू और मलेरिया जैसी जलजनित अन्य बीमारी पर निगम रखेगी नजर…

by sadmin
Spread the love

महापौर ने शहर में अभियान चलाकर व्यवस्था करने दिये निर्देश
दक्षिणापथ, दुर्ग ।
नगर पालिक निगम क्षेत्र के प्रत्येक घरों में डेंगू और मलेरिया मच्छरों की रोकथाम के लिए टेमीफोस की दवाई पहुंचाई जाएगी साथ ही प्रत्येक वार्ड के नालियों में रुके और जमे हुए पानी में मेलाथियान की दवाई का छिड़काव किया जाएगा । महापौर धीरज बाकलीवाल तथा स्वास्थ्य प्रभारी हमीद खोखर ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की बैठक लेकर शहर में अभियान चलाने का निर्देश दिये । बैठक में स्वास्थ्य अधिकारी दुर्गेश गुप्ता, स्वच्छता निरीक्षक जसवीर सिंह, मानसिंह मंडावी, राजेंद्र सराठे, दरोगा राजू सिंह, सुरेश भारती रामलाल भट्ट, प्रताप सोनी सहित समस्त वार्ड के सफाई सुपरवाइजर उपस्थित थे ।
शहर को डेंगू और मलेरिया जैसे अन्य जल जनित बीमारियों से बचाना है….
बैठक में महापौर श्री बाकलीवाल ने स्वास्थ्य विभाग कमलेश को निर्देशित कर कहा बरसात प्रारंभ हो गई है ऐसे समय में जल जनित बीमारी जैसे पीलिया, मलेरिया, डेंगू अपना पांव पसारे उससे पहले सभी प्रकार की व्यवस्था तैयारी किया जावे। शहर के प्रत्येक घर में टेल मी फास्ट की दवाई की शीशी बांटी जाए , प्रत्येक घर में स्वच्छ पानी के लिए क्लोरीन का टेबलेट का वितरण किया जावे, साफ सफाई की दृष्टि से किसी भी वार्ड क्षेत्र में नालियों की सफाई अच्छे से की जाए बारिश का पानी का जमाव ना हो इसका ध्यान रखें ।
कूलरों व गड्डों के रुके पानी में दवाई छिड़काव कर सफाई व्यवस्था बनाएं ….
शहर की जनता अपने घरों में कूलर का उपयोग करते हैं मौसम ठंडा होने से कूलर बंद कर देते हैं जिसमें पानी भरा होता है, पानी भरे हुए कूलर में डेंगू मच्छर का लारवा पनप सकता है । सफाई सुपरवाइजर और कर्मचारी अपने वार्ड क्षेत्र के घरों में फूलों की जांच कर उसमें दवाई डालें और 2 दिन बाद उसकी सफाई कराएं । बहुत सी जगहों पर वाहनों के टायर पड़े होते हैं कई लोग उसमें पानी भरकर भी रखते हैं। वार्डवासियों के बीच जाकर इस बात की जानकारी दें कि किसी भी रुके हुए पानी में डेंगू मच्छर पनप सकता है अतः पानी का जमाव ना होने दें । लोगों को बताएं कि बरसात के समय पानी को उवॉल कर पिए, पानी में फ्लोरिंग टेबलेट डालकर रखें । आप सभी शहर की साफ सफाई स्वास्थ्य कि बेहतर रक्षक कर रहे हैं। इस कार्य को भी चुनौती के रूप में लें और अभियान चलाकर डेंगू मलेरिया पीलिया जैसे बीमारियों की रोकथाम करें ।

Related Articles