सेल-बीएसपी के निदेशक (प्रभारी) ने किया संयंत्र में सुरक्षा माह 2021 का शुभारंभ

by sadmin
Spread the love

दुर्ग/भिलाई: सेल-भिलाई इस्पात संयंत्र में जनवरी, 2021 को सुरक्षा माह के रूप में मनाया जा रहा है। संयंत्र के सुरक्षा अभियाँत्रिकी विभाग द्वारा इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। दिनाँक 01 जनवरी, 2021 को बीएसपी के निदेशक(प्रभारी) अनिर्बान दासगुप्ता ने इस्पात भवन में सुरक्षा ध्वज फहराकर सुरक्षा जागरूकता माह का शुभारंभ किया । इस्पात भवन के सभागार में अनिर्बान दासगुप्ता द्वारा सुरक्षा शपथ दिलाई गई एवं सुरक्षा अभियाँत्रिकी विभाग द्वारा तैयार सेफ्टी आडिट शेडयूल का उपस्थित उच्च अधिकारियों की उपस्थिति में विमोचन किया गया l इसके साथ ही संयंत्र के निदेशक(प्रभारी) अनिर्बान दासगुप्ता समेत समस्त उच्च अधिकारियों ने संयंत्र कर्मियों को नववर्ष की शुभकामनाएँ प्रदान की।
कार्यपालक निदेशक (संकार्य) राजीव सहगल ने संयंत्र भवन में सुरक्षा ध्वज फहराकर, सुरक्षा के प्रति प्रतिबद्धता दोहराते हुए अपने सुरक्षा संदेश में कहा कि संयंत्र में उत्पादन से संबंधित सभी कार्य महत्वपूर्ण एवं चुनौतीपूर्ण हैं। सुरक्षित व व्यवस्थित हाउसकीपिंग एक महत्वपूर्ण साधन है जो दुर्घटनाओं की संभावनाओं को कम करते हुए कार्मिकों को सुरक्षित कार्यस्थल उपलब्ध कराता है। उन्होंने आगे कहा कि कार्यस्थल पर सुरक्षित आचरण व व्यवहार अन्य कार्मिकों में सकारात्मक माहौल उत्पन्न कराता है।
राजीव सहगल ने एसओपीज़/एसएमपीज़ का कड़ाई से अनुपालन करने की अपील की| साथ ही रोको-टोको अभियान द्वारा कार्मिकों एवं श्रमिकों में जागरूकता बढ़ाने एवं “एक्सीडेंट फ्री स्टील” के उत्पादन में योगदान देने पर जोर दिया। l सुरक्षा अभियांत्रिकी विभाग द्वारा उपस्थित सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को सुरक्षा शपथ दिलाई गई l
इसी कड़ी में माह जनवरी में संयंत्र स्तर पर विभिन्न सुरक्षा कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा। इसके अलावा जनवरी 01 को संयंत्र के विभिन्न विभागों, संयंत्र भवन, इस्पात भवन एवं एक्सपांशन कार्यालय में सुरक्षा ध्वज फहराया गया। वहीं मुख्य महाप्रबंधक एवं विभाग प्रमुखों द्वारा संयंत्र के संबंधित विभागों में सुरक्षा ध्वज फहराकर सुरक्षा शपथ दिलाई गई ।
कार्यक्रम को सफल बनाने में सुरक्षा अभियांत्रिकी विभाग, सिविल इंजीनियरिंग विभाग, जन संपर्क विभाग के साथ अन्य विभागों का परोक्ष व अपरोक्ष रूप से सराहनीय योगदान रहा l

Related Articles

Leave a Comment